अगर मस्सों की समस्या रहती है तो जानिए इसके घरेलू उपाय


दोस्तों आज के आधुनिक समय में लोगों के खान-पान में बदलाव की वजह से पेट से जुड़ी कई बीमारियां हो जाती हैं। इसमें गैस, कब्ज, अपच, एसिडिटी आदि समस्याएं शामिल हैं। ऐसी ही एक समस्या है बवासीर।

अगर मस्सों की समस्या रहती है तो जानिए इसके घरेलू उपाय

अगर Warts (मस्सों) की समस्या बनी रहती है, तो जानिए इसके घरेलू उपायों के बारे में, पुरुषों के साथ-साथ महिलाओं को भी मिलेगी राहत।

जब कोई व्यक्ति इस रोग से ग्रसित होता है तो उसे सुबह के समय खाने के साथ-साथ मल त्याग करने में भी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है और कई बार खून भी निकल जाता है। इसके साथ तेज दर्द होता है।

बवासीर के कारणों की बात करें तो सुस्ती भरा जीवन, ज्यादा मसालेदार खाना, मसालों का ज्यादा इस्तेमाल आदि इसके लिए जिम्मेदार होते हैं। इसके साथ ही जिन लोगों को कब्ज की समस्या का सामना करना पड़ रहा है उन्हें बवासीर होने का खतरा अधिक होता है।

जब कोई व्यक्ति बवासीर की समस्या से पीड़ित होता है तो उसे शुरुआत में कोई लक्षण नहीं दिखते। हालांकि, एक-एक हफ्ते के बाद शौच और खून बहने की समस्या होने लगती है।

अब जब समस्या अधिक गंभीर हो जाती है तो दर्द शुरुआती दर्द से भी बदतर हो जाता है और मल त्याग करने में अधिक कठिनाई होती है।

फिर एक समय ऐसा आता है जब गुदा से मस्से निकलने लगते हैं और बाहर लटक जाते हैं। जिससे काफी दर्द होता है और आप सीधे बैठ भी नहीं पाते हैं।

आपको बता दें कि मस्से त्वचा पर कहीं भी हो सकते हैं, लेकिन ज्यादातर ये गुदा या गुदा में होते हैं। मौसा का कोई विशिष्ट आकार नहीं होता है और यह काफी छोटा या कभी-कभी बड़ा हो सकता है।

अगर मस्सों से राहत पाने के उपाय की बात करें तो एलोवेरा जेल मस्सों की समस्या से राहत दिला सकता है। इसके लिए आप मस्से पर एलोवेरा जेल का इस्तेमाल करें। यह संक्रमण को भी कम करता है।

इसके साथ ही आप त्रिफला चूर्ण को पानी में मिलाकर भी मस्सों को नियंत्रित करने के लिए खा सकते हैं। इससे कब्ज की समस्या भी नहीं होती है। इसके अलावा आप ताजे उबले पानी में एक चम्मच हींग मिलाकर इसका सेवन कर सकते हैं, जिससे मस्सों की समस्या से राहत मिलती है।

अगर आप मस्से पर नीम का तेल लगाकर मालिश करेंगे तो भी मस्से गायब हो जाएंगे। इसके साथ ही नीम का रस निकाल कर उसका सेवन करने से भी आपको आराम मिलता है। सौंफ को चबाने से बवासीर की समस्या भी दूर हो जाती है।

इस समस्या के लिए अनार का रस भी कारगर माना जाता है। अगर आप काले तिल को चबाकर दही के साथ खाते हैं तो भी बवासीर में आराम मिलता है।


Advertisement


Note :

किसी भी हेल्थ टिप्स को अपनाने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले. क्योकि आपके शरीर के अनुसार क्या उचित है या कितना उचित है वो आपके डॉक्टर के अलावा कोई बेहतर नहीं जानता


एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने