अगर आप प्रमुखस्वामी शताब्दी महोत्सव में जाना चाहते हैं तो इस ऐप को डाउनलोड करें


अहमदाबाद के प्रांगण में आज से एक महीने तक चलने वाले Sant Pujya Shri Pramukh Swami Centenary Celebrations (संत पूज्य श्री प्रमुखस्वामी के शताब्दी समारोह) में न भूतो न भविष्य। साइंस सिटी-ओगनज के बीच सरदार पटेल रिंग रोड के किनारे 600 एकड़ जमीन पर बने भव्य Swaminarayan Nagar (स्वामीनारायणनगर) के दर्शन के लिए लाखों श्रद्धालु और दर्शनार्थी आएंगे। इस शताब्दी समारोह में एक महीने में एक करोड़ से अधिक दर्शकों के आने की संभावना है।

अगर आप प्रमुखस्वामी शताब्दी महोत्सव में जाना चाहते हैं तो इस ऐप को डाउनलोड करें



इसके बाद संवेदनशील मामलों को ध्यान में रखते हुए आगन्तुकों के प्रबंधन और व्यवस्था के लिए विभिन्न प्रबंध किए गए हैं। भोजन से लेकर भजन तक सभी सुविधाएं उपलब्ध होने से इस शताब्दी महोत्सव में आने वाले दर्शकों को भी अब डिजिटलाइजेशन का लाभ मिलेगा। अब मान लीजिए कि लाखों फॉलोअर्स और विजिटर्स को एक क्लिक में कई सुविधाएं मिल सकती हैं।

भिखारी की झोपड़ी में लगे AC को देखकर पुलिस को शक हुआ

इस Shatabdi Mahotsav (शताब्दी महोत्सव) में तकनीक का सहारा लिया गया है ताकि देश विदेश से आने वाले लाखों श्रद्धालुओं को असुविधा न हो और दर्शनार्थियों को परेशानी न हो। शताब्दी समारोह की तैयारियों में कई स्वयंसेवकों ने विभिन्न प्रकार की सेवा प्रदान की है। अब यहां की व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए PSM 100 नाम से एक एप्लीकेशन बनाई गई है। गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध इस एप्लिकेशन के माध्यम से न केवल प्रचार-प्रसार बल्कि परिवहन पर भी नियंत्रण होगा। यह विशेष रूप से डिज़ाइन किया गया एप्लिकेशन शताब्दी महोत्सव के आगंतुकों की मदद करने के उद्देश्य से 24x7 उपयोगकर्ताओं का समर्थन करेगा।

PSM 100 नामक यह एप्लिकेशन एक मार्गदर्शक की भूमिका निभाएगा। इस एप्लिकेशन को डाउनलोड करने वाले उपयोगकर्ताओं के लिए गुजराती, अंग्रेजी और हिंदी तीन भाषा विकल्प भी प्रदान किए गए हैं। तीन भाषाओं में से एक का चयन करने के बाद, आगंतुक या भक्त के लिए कई सुविधाओं का एक डिजिटल खजाना खुल जाएगा।
एक विकल्प ट्रैवल गाइड की बात करें तो यहां क्लिक करते ही आपको गूगल मैप में सीधा रास्ता मिल जाएगा, जिससे आप ओगनज में हो रहे शताब्दी महोत्सव में सीधे अपने गांव, शहर या शहर से पहुंच सकेंगे।

अब बात करते हैं एक और सुविधा की, जिसकी 600 एकड़ में फैले प्रमुखस्वामीनगर में बहुत जरूरत थी, वो थी पार्किंग की। प्रौद्योगिकी के उपयोग ने आगंतुकों के लिए कार पार्किंग को आसान बना दिया है। पार्किंग स्थल पर पहुंचने के बाद, आगंतुक पास के क्यूआर कोड को स्कैन करके पार्किंग की जगह को सुरक्षित कर सकता है और जब आगंतुक वापस जाने के लिए निकलता है, तो वह क्यूआर कोड के आधार पर बड़ी पार्किंग में अपनी कार भी ढूंढ सकता है।

PSM 100 App Download: Click Here

इसके अलावा पूरे परिसर में प्रवेश द्वार से अन्य क्यूआर कोड की सुविधा का लाभ उठाया जा सकता है। 600 एकड़ के इस परिसर में आपको अलग-अलग सुविधाएं मिलेंगी। वहां से आप अपने मोबाइल में खाने-पीने के स्टॉल की जानकारी लेकर वहां पहुंच सकेंगे।

इन जोड़ियों में है ढेर सारा प्यार और भरोसा, स्वर्ग से आती हैं ये नाम वाली जोड़ियां

PM Modi द्वारा इस शताब्दी समारोह के उद्घाटन से लेकर पूरे महीने के विभिन्न कार्यक्रमों के कार्यक्रम की जानकारी भी आपको इस एप्लीकेशन पर मिल जाएगी. उपयोगकर्ता घर बैठे दैनिक आधार पर होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रमों की रोचक जानकारी भी प्राप्त कर सकेंगे। PSM 100 App के बारे में अधिक जानकारी देते हुए हरिभक्त योगेश पटेल ने कहा कि यह एप BAPS संस्था के स्वयंसेवकों द्वारा बनाया गया है। यह ऐप प्ले स्टोर पर फ्री में उपलब्ध है, इसे इस्तेमाल करने का कोई चार्ज नहीं है। उद्देश्य यह है कि यदि अधिक आगंतुक और बागवान इस एप्लिकेशन का लाभ उठाते हैं, तो सिस्टम को बनाए रखना भी आसान होगा और प्रत्येक आगंतुक को कम चलना होगा।


Advertisement


Note :

किसी भी हेल्थ टिप्स को अपनाने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले. क्योकि आपके शरीर के अनुसार क्या उचित है या कितना उचित है वो आपके डॉक्टर के अलावा कोई बेहतर नहीं जानता


एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने